ट्रेन में एक अजनबी से मुलाकात : भाग-३

फ्रेंडस, दीपा की जवानी की कहानी / वाक्या पढ़कर आप लोग जरूर मजे ले रहे होंगे लेकिन ये सच है कि प्यार / शारीरिक संबंध बनाने के लिए है, वास्तविकता से जुड़ी सेक्स ही खुशी देती है तो मुझे गैर मर्दों के साथ चुदाने की आदत सी पड़ गई थी, अक्सर मैं ही मर्दों को … Continue reading ट्रेन में एक अजनबी से मुलाकात : भाग-३

ट्रेन में एक अजनबी से मुलाकात : भाग-२

हैलो दोस्तों, ट्रेन के प्रथम वातानुकूलित डब्बे में दीपा एक सहयात्री के साथ चिपक कर चुम्बन देने में लगी हुई थी तो जावेद मेरे चूतड को पेटीकोट के उपर से ही सहलाने लगा और मैं उसके छाती से अपने मुलायम बूब्स रगड़ रगड़ कर काम की ज्वाला प्रज्वलित कर रही थी और तभी वो मेरे … Continue reading ट्रेन में एक अजनबी से मुलाकात : भाग-२

ट्रेन में एक अजनबी से मुलाकात

फ्रेंडस, मेरी जवानी मेरे लिए अनमोल है तो उसका हर पल आंनद लेना ही मेरा उद्देश्य लेकिन क्या मैं इधर उधर मुंह मारकर चरित्रहीन औरत की श्रेणी में आ चुकी हूं, शायद हां या तो आप मुझे कामिनी कह सकती हैं जिसे काम ( सेक्स ) ने ही काफी आंनद आता है, अच्छा हैं की … Continue reading ट्रेन में एक अजनबी से मुलाकात

छोटी छोरियों के शिकारी

वह मुश्किल से 11 साल की थी। सुबह के साढ़े पाँच बजे थे, सड़क सुनसान थी। वह सलवार-कुर्ती में थी, और सड़क के किनारे हरी घास की ढेरी लगा रही थी। हमलोग पाँच थे, तीन पुरुष और दो युवा लड़कियां। हमारा काम रोजबरोज कमसिन व छोटी छोरियों की जांच -पड़ताल व उनका अपहरण करना था। … Continue reading छोटी छोरियों के शिकारी

नौकर से बदन की मालिश कराई : भाग-३

पाठकों, पिछले भाग के आगे की वाक्या, दीपा की जवानी और मेरी जुबानी…. मैं फर्श पर बिछे बेड पर कोहनी और घुटनों के बल थी तो मेरे जिस्म पर नौकर के हाथ तेल मालिश हुई थी, वैसे भी पिछले एक सप्ताह में मैंने तीन तीन मर्दों के साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाया लेकिन मेरे पति नमन … Continue reading नौकर से बदन की मालिश कराई : भाग-३

नौकर से बदन की मालिश कराई : भाग-२

दोस्तों, मेरे जैसी शादीशुदा महिला को यदि ससुराल वालों ने स्वतंत्रता दे रखी है तो निश्चित रूप से कल होकर मेरे पेट में किसी और का बच्चा भी ठहर सकता है, कोई ताज्जुब की बात नहीं तो रामू डायनिंग हॉल आया फिर फर्श पर एक बेड लगाकर मुझे लेटने को बोला, दीपा नंगे लेटकर अपने … Continue reading नौकर से बदन की मालिश कराई : भाग-२

नौकर से बदन की मालिश कराई

हैलो दोस्तो, मेरे ससुराल इटावा में मेरे ससुर जी, सासू मां और देवर विवेक तीनो अपने ही दुनिया में खोए रहते थे तो मैं यहां अकेले तन्हा महसूस किया करती थी और २६ साल की मचलती जवानी को जब तक कोई प्रेमी अच्छे से ना सुंधे और मसले तब तक साली नींद भी नहीं आती … Continue reading नौकर से बदन की मालिश कराई

देवर के साथ छत पर रोमांस : भाग-२

दोस्तों, पिछले भाग में आपने पढ़ा कि दीपा और विवेक छत पर ही काम क्रिया करने लगे तो मेरे जिस्म बियर से भीगे थे और तभी मैं बेड पर उठकर बैठी तो आसमान में बादल अब गरजने लगे, विवेक और मैं छत पर बने स्टोर रूम चले गए तो साथ में बेड भी हटा लिए, … Continue reading देवर के साथ छत पर रोमांस : भाग-२

देवर के साथ छत पर रोमांस

फ्रेंडस, दीपा अभी इटावा ( ससुराल ) में है तो मेरे तन की आग हमेशा ही प्रज्वलित होती रहती है और वो भी तब अधिक जब कोई मेरे लिए तड़पता है और मेरा देवर विवेक मेरे साथ पहले भी सेक्स का आनन्द ले चुका है तो दोनों एक दूसरे के साथ मौका मिलते ही मजे … Continue reading देवर के साथ छत पर रोमांस